स्वतंत्रता

खुशहाल रहे तेरी स्वतंत्रता
होनहार रहे तेरी स्वतंत्रता..
तेरी स्वतंत्रता मेरी स्वतंत्रता
मेरी स्वतंत्रता मेरी स्वतंत्रता..

होठो पे सजी है मेरी स्वतंत्रता
साँसों में बंसी है मेरी स्वतंत्रता...
आंखों से बहे है मेरी स्वतंत्रता
दुहाई ही देती है मेरी स्वतंत्रता...!
मेरी स्वतंत्रता मेरी स्वतंत्रता..।।

जीवन को सिखाये ये एकता
रुदय में जगाये ये पावनता
सत्मार्ग दिखाये गाके मन्त्रता
सिद्धांत जताये ये स्वतंत्रता..!!
मेरी स्वतंत्रता मेरी स्वतंत्रता...!!

आओ मिलकर निभाये दृढ़ता
मन मन से हम निकाले मूढ़ता
विश्व को बतादे इसकी गूढ़ता
अब नाही दिलाओ परतंत्रता...!!
मेरी स्वतंत्रता मेरी स्वतंत्रता...!!
🇮🇳🇮🇳🇮🇳💐💐💐🇮🇳🇮🇳🇮🇳

- वृषाली सानप काले

Comments

Popular posts from this blog

प्राचीन भारतीय आर्य भाषा की विशेषताएं

संस्कृत भाषा के शब्द भंडार से सम्बंधित बातें

इम्तिहान